नई दिल्ली; इस बार विहार के महापर्व मै सम्पादृयिक सौहार्द का रंग साफ़ नज़र आ रहा  है इस बार होने बाली छट पूजा का रंग छठ सॉन्ग मै साफ नज़र आ रहा है छठ को लेकर कई कंपनी ने छठ सॉन्ग तैयार किये कल्पना पटवारी कंपनी ने एक ऐसी कोशिश की है जो आप के अंदर ही भावना को भाईचारे मै तव्दील कर देगी

इस एल्वम की सिंगर आकांक्षा वर्मा इस व्रत को 36 घंटे निर्जल रखा जाता है महापर्व छठ को दर्शको के बीच पहुंचाने के लिए प्रवीण सिन्हा निहोरा छटी माहि के लेकर आये है इस एल्वम मै दिखाया गया है की माँ अपनी परम्परा को लेकर परेशांन है बेटा मुस्लिम लड़की को व्याह के ले आया है उनकी परम्परा निभाने बाला कोई नहीं होगा है

वीडियो में दिखाया गया है कि बहू ने धर्म की अपेक्षा अपने कर्तव्यों को ज्यादा तवज्जो दी. उसने यह महसूस किया की भगवान और अल्लाह में फर्क नहीं है! फर्क सिर्फ हमारी सोच तक सीमित है और इस तरह घर की बहू होने के नाते वह छठ की परंपरा को बरकरार रखना चाहती है

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे…

Loading...