लखनऊ : अमेठी जिला प्रशासन ने कानून एवं व्यवस्था का हवाला देते हुए
स्थानीय सांसद और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को उनके निर्वाचन
क्षेत्र के दौरे की अनुमति नहीं दी और उनसे दौरे का कार्यक्रम फिर से
निर्धारित करने को कहा है. प्रशासन ने कानून व्यवस्था को आधार बनाते हुए
राहुल की यात्रा की अनुमति नहीं दी. कांग्रेस ने इस कदम की आलोचना की है अमेठी के सांसद राहुल गांधी चार अक्टूबर को अपने संसदीय क्षेत्र का दौरा
करेंगे। सोमवार ( दो अक्टूबर) को प्रदेश सरकार ने राहुल गांधी को दौरे की
इजाजत दी। जिला प्रशासन ने एक दिन पहले राहुल गांधी से पर्याप्त सुरक्षा
व्यवस्था देने में असमर्थता जताते हुए ये दौरा आगे टालने की गुजारिश की थी।
बाद में अमेठी जिला प्रशासन ने राहुल गांधी के दौरे को इजाजत देते हुए कहा
कि उसे इस पर कोई आपत्ति नहीं है।
अमेठी जिला प्रशासन की ओर से जिला कांग्रेस प्रमुख को भेजे गये पत्र में
कहा गया है कि कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए अधिकांश पुलिस बल ड्यूटी
पर होगा, इसलिए शांति कायम रखने में काफी असुविधा होगी. इसलिए आग्रह है कि
इस दौरे का कार्यक्रम पांच अक्तूबर के बाद किसी भी तारीख के लिए
पुनर्निर्धारित किया जाए.
राहुल गांधी ने हाल ही में अमेरिका के कई शहरों में आयोजित कार्यक्रमों में
शामिल हुए। देश वापसी के बाद राहुल सबसे पहले गुजरात गये और द्वारकाधीश
मंदिर में दर्शन-पूजन किया था। गुजरात मे इस साल के अंत में चुनाव होने
हैं। कुछ मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि साल 2019 के लोक सभा
चुनाव और उससे पहले कई राज्यों में होने वाले विधान सभा चुनाव के मद्देनजर
राहुल गांधी ने सिरे से जनसंपर्क शुरू कर रहे हैं। अमेठी दौरा भी उनकी इस
नीति प्रचार नीति का अंग हो सकता है।
पत्र
पर अमेठी के जिलाधिकारी योगेश कुमार और पुलिस अधीक्षक पूनम के दस्तखत हैं.
इसमें कहा गया कि एक पत्र के जरिए सूचित किया गया कि सांसद राहुल गांधी का
दौरा चार से छह अक्तूबर के बीच प्रस्तावित है. हालांकि पांच अक्तूबर को कई
जगहों पर दुर्गा पूजा एवं दशहरे का समापन होता है.

 

* कांग्रेस ने लगाया साजिश का आरोप
इधर राहुल गांधी को अमेठी दौरे पर जाने
की इजाजत नहीं मिलने के बाद कांग्रेस पार्टी ने केंद्र सरकार पर साजिश का
आरोप लगाया. कांग्रेस नेता राज बब्बर ने कहा, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक
सांसद त्योहारों पर अपने निर्वाचन-क्षेत्र में नहीं जा सकता. यह लोकतंत्र
की हत्या है.

Loading...