नई दिल्ली : चीन के बढ़ते दबदबे को देखकर भारत के साथ आये ऑस्ट्रेलिया, जापान और अमेरिका चेन को सबकर सिखाने के लिए रविवार को मनिला मे चारो देशो के नेताओ ने वार्ता की चीन की बढ़ती सैन्य और आर्थिक ताकत के बीच देशो ने माना है चीन महत्वाकांक्षी  प्रॉजेट वन वेल्ट वन रोड के जरिये पूरी दुनिया मे दबदबा बनाना चाहता है  दक्षिण चीन सागर के इलाके मे कई पडोसी देशो से विवाद है हिन्द महासागर के क्षेत्र मे भी वह अपना प्रभावः बढ़ाने के जुगाड़ मे लगा हुआ है ऐसे मे मोर्चा का काफी महत्व रखता है

महत्वपूर्ण यह बात है की लोकतान्त्रिक देशों के बीच यह पहली वार्ता जिसमे आतंकबाद से निपटने के लिए सहयोग बढ़ाने के लिए भी चर्चा की गई नई दिल्ली मे विदेश मंत्रालय की और से बताया गया की भारत ऑस्ट्रेलिया जापान और अमेरिका के विदेश विभाग के अधिकारी ने फिलीपींस की राजधानी मे मुलाकात की गई इसी दौरान इंडो पसिफिक क्षेत्र के हितों की बात की गई

वयान मे बताया गया चर्चा के दौरान इंटरकनेक्टेड क्षेत्र मे खुशहाली और शांति को बढ़ावा देने के लिए सहयोग बढ़ाने का फोकस किया गया था यह मीटिंग ऐसे समय मे की गई जब पीएम मोदी रविवार को ही फिलीपींस के तीन दिवसीय दौरे पर मनीला पहुंचे थे वह 15वें भारत-आसियान शिखर सम्मेलन और 12वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे

Loading...