नई दिल्ली : राममंदिर विवाद को सुलझाने मे रविशंकर जी की कोशिशों पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा है की सबको मालूम है की बात चीत करने से क्या हल निकलेगा सीएम  योगी कहा की जब सुप्रीम कोर्ट इस मामले की सुनवाई रोज करने बाला है ऐसे मे इस तरह की कोशिश किस दिशा मे जाएगी ये सबको पता है

 

उन्होंने कहा कहा सुप्रीम कोर्ट इस मामले सुनवाई 5 दिसम्बर से रोज करने जा रहा है सबको मालूम है की इस बातचीत क्या हश्र होगा अगर कोई हल सम्बव होता है तो उस पर पहले ही सहमति बन गई होती उन्होंने बताया अगर इसके बाद भी कोई बातचीत करता है तो कोई बुराई नहीं है इसमें सरकार इसमें शामिल नहीं है अयोध्या यात्रा के दौरान मैंने कहा था की अगर दोनों पक्ष एक समझौते पर पहुंचते है तो सरकार इसपर विचार कर सकती है सरकार इस पर कोई कदम नहीं उठा सकती है क्युकी मामला सुप्रीम कोर्ट मे है

 

श्री रविशंकर के साथ बुधवार को हुई मुलाकात पर उन्होंने कहा हमारी अयोध्या मामले पर कोई बातचीत नहीं हुई ये एक औपचारिक मुलाकात थी और वे लख़नऊ मे थे इसलिए मिलने आये थे

 

गुरुबार को उत्तर प्रदेश मे राम मंदिर विवाद को सुलझाने की पहल मे जुटे आर्ट ऑफ़ लिविंग के संस्थापक श्री रविशंकर ने अयोध्या यात्रा के दौरान कहा था की वह सोद्दे और संघर्ष की नहीं बल्कि सौहार्द की बात करने आये है श्री रविशंकर ने कहा है मुझे पता है की कुछ लोग इससे सहमत नहीं होंगे लेकिन ज्यादातर मुस्लिम राम मंदिर का विरोध नहीं कर रहे है अयोध्या मसले का बात चीत से हल निकलने को लेकर मध्यता कर रहे श्री रविशंकर गुरूवार को राम जन्म भूमि के सभी दावेदारों से मुलाकात करने अयोध्या मे थे

Loading...